चोरी व बलात्कार का आरोपी शातिर चोर पुलिस के हत्थे चढ़ा, नगदी समेत लाखों के जेवरात बरामद

0
73

ललितपुर-तालबेहट। जनपद में कई माह से शहरी व ग्रामीण इलाकों में चोरी की घटनाए बढ़ गयी थी। शातिर बदमाशों में पुलिस को खुली चुनौती देते हुये कई घटनाओं को अंजाम दिया। खुलासे के लिये पुलिस अधीक्षक एमएम बेग ने क्षेत्राधिकारी सदर व क्षेत्राधिकारी तालबेहट के नेतृत्व में कई टीमें गठित की शनिवार को पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी। जिसमें पुलिस व स्वॉट टीम ने एक अभियुक्त को माल सहित दबोच लिया। प्रांरभि जांच में अभियुक्त को 8 घटनाओं को स्वीकार किया। उम्मीद जताई जा रही है कि पूछताछ के दौरान अन्य घटनाओं के भी खुलासे हो सकते है। पुलिस कप्तान कै. मिर्जा मंजर बेग के निर्देशन व सीओ देवेन्द्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में संयुक्त पुलिस टीम तेरईफाटक राष्ट्रीय राजमार्ग पर संदिग्धों की तलाश हेतू चैकिंग अभियान चला रही थी। तभी मुखबिर से पुलिस टीम को सूचना मिली कि एक संदिग्ध व्यक्ति हीरो ग्लैमर बाइक से ललितपुर से झांसी की ओर चोरी के लाखों रूपए के जेवरात लेकर बेचने जा रहा है। सटीक मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीमें सजग हो गई। उसी दौरान मुखबिर के बताए हुलिया व बाइक लिए एक युवक ललितपुर की ओर से आता दिखाई दिया। जिस पर पुलिस ने उक्त बाइक सवार को रो कर उसकी जमा तलाशी लेते हुए नाम पता पूछा गया। जिस पर युवक ने अपना नाम आकाश अग्रवाल पुत्र महेश अग्रवाल निवासी कस्बा मऊरानीपुर हॉल निवासी गोविन्द नगर ललितपुर बताया। जिसकी बाइक की डिग्गी तलाशी में एक बैग बरामद हुआ। जिसमें पीली व सफेद घातु के कई जेवरात व करीब 55 हजार रूपए, एक तमंचा व चार जिंदा कारतूस बरामद हुए। पूछताछ के दौरान पकड़े गए युवक ने बताया गया कि वह काफी दिनों से क्षेत्र में चोरियों की बारदात को अंजाम दे रहा है। जिसमें तरगुंवा, रानीकोडर, तेरईफाटक, महर्रा, बांसी, विरारी, गूगरवारा व कई अन्य जगह पर चोरियों की बारदात को अंजाम दिया। उन्ही जेवरात को लेकर वह बेचने जा रहा था। चोरियों की घटना के अलावा उसने 6 सिंतबर को राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित रानीकोडर में एक नाबालिक लडकी के हाथ पैर बांध कर से दुष्कर्म करते हुए चोरी की बारदात को अंजाम दिया था। पकड़े गए अभियुक्त के विरूद्व कई संगीन अराधिक बारदातें दर्ज है।
सात लाख रूपए के जेवरात व नगदी बरामद
पकड़े गए युवक के पास से पुलिस ने पीली धातु के जेवरात करीब 100 ग्राम जिनकी कीमत लगभग 3 लाख 80 हजार रूपए, सफेद धातु के जेवरात 6 किलोग्राम अनुमानित करीब 3 लाख रूपए तथा जमातलाशी में 55 हजार 150 रूपए नगदी बरामद किए गए।
चोरी के साथ ही किशोरी को बनाया था हवस का शिकार
पकड़ा गया शातिर चोर दिनदहाड़े सूने मकान में घुसकर चोरी की बारदात को अंजाम देता था। यदि बच्चे घर में है तो फर्जी रिश्तेदार बन कर बच्चों को बाजार समान खरीदने भेजकर चोरियां करता था। 6 सिंतबर को शातिर चोर ने रानीकोडर में दिव्यंाग किशोरी के हाथ पैर बांधकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम देते हुए चोरी की बारदात की थी। पकड़े गए चोर के विरूद्व विभिन्न थानों में करीब आठ मामले संगीन बारदातों के दर्ज है।
इस टीम को मिली सफलता
कै0 मिर्जा मंजर बेग के निर्देशन में सीओ देवेन्द्र प्रताप सिंह, कोतवाल मनोज वर्मा, बानपुर थानाध्यक्ष भानू प्रताप सिंह, स्वॉट टीम प्रभारी राजकुमार यादव, एसआई नरेश यादव तालबेहट, एसआई सत्यपाल सिंह, है0का0 शत्रुजंय सिंह, का0 अरूण त्रिपाठी, का0 दिनेश पाण्डेय, का0धर्मेन्द्र सिंह, का0 शहउदीन बानपुर, का0 अमित पाठक, स्वाट टीम मनमोहन, का0 जायद अली, का0 इमरान शाबरी, का0देवेन्द्र सिंह, का0 रोहित, का0 कुलदीप, का0अनूप पटेल, का0 मनीष कुमार, चालक सलाउद्दीन, उपनिरीक्षक सुरेश नारायण हे0का0 शैलेन्द्र कुमार आदि प्रमुख रहे।
खुलासा करने वाली टीम को 25 हजार इनाम घोषित
लगातार बढ़ती चोरियों की बारदातों का पूरे मनोयोग से कड़ी मेहनत कर खुलासा करने बाली पुलिस की संयुक्त टीम को पुलिस कप्तान ने 25 हजार रूपए की धनराशि उत्साहवर्धन स्वरूप इनाम दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here