वोटर कार्ड में बदलना है नाम या फिर फोटो… तो फिर डाउनलोड करें यह एप

0
120

भोपाल। वैसे तो हम सभी के पास वोटर कार्ड हैं पर कई लोगों के वोटर कार्ड में फोटो स्पष्ट नहीं आयी है या फिर किसी के नाम में कोई गलती हो गयी है जिस कारण हमें कई बार परेशानियों का सामना करना पड़ता है यदि आपके साथ ही यह समस्या है तो परेशान न हों गूगल से बस एक एप डाउनलोड करें और खुद ही अपनी फोटो बदलें या फिर नाम में कुछ गड़बड़ी हो तो वो भी खुद ही सुधार लें आपके कहीं जाने की जरूरत नहीं है।
मतदाताओं की सुविधा के लिए पहले से काम कर रहे वोटर हेल्पलाइन एप को नया रूप दे दिया गया है जो आपकी पूरी मदद करेगा। इसके साथ ही आपके क्षेत्र का बीएलओ भी अब आपके घर पहुंचेगा। वह एक-एक वोटर का सत्यापन उसकी फोटो आईडी देखकर करेगा। यह काम 30 सितंबर तक चलेगा।
इस प्रकार कर सकेंगे संशोधन
वोटर हेल्पलाइन एप का नया वर्जन गूगल प्ले स्टोर से डाउन लोड होगा। एप की मदद से संशोधन वे ही वोटर कर सकेंगे जो एप में अपना फोटो आईडी नंबर रजिस्टर्ड कराएंगे। ऐसा करने पर उन्हें एक ओटीपी मिलेगा। इसके बाद एप में कई ऑप्शन आएंगे, जिन्हें अपने काम के हिसाब से वोटर को चुनना होगा। यदि फोटो बदलवाना है तो नया फोटो, एड्रेस बदलवाना है तो एड्रेस प्रूफ का कोई एक दस्तावेज और नाम में करेक्शन है तो उसका प्रमाण भी एप में ऑनलाइन एप्लीकेशन के साथ अटैच करने होंगे।
घर पहुंचकर सेल्फी लेंगे बीएलओ
वोटर हेल्पलाइन एप पर संशोधन के आवेदन आने के बाद बीएलओ जांच के लिए वोटर के घर पहुंचेगा और जांच के बाद उसे रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के पास भेजेगा। बीएलओ से कहा गया है कि परिवार के किसी सदस्य के साथ सेल्फी भी ले ताकि प्रमाण बना रहे। किसी घर में पुरुष न होने पर वह वोटर के घर के पास ही खड़े होकर मकान की सेल्फी लेगा।
डोर-टू-डोर सर्वे 30 सितम्बर तक
वोटर वेरीफिकेशन प्रोग्राम एक बार फिर चालू हो गया है। इसके तहत हर बीएलओ वोटर के घर पहुंचकर सर्वे करेगा। वह एक-एक वोटर का सत्यापन उसके पास मौजूद फोटो पहचान पत्र से करेगा। जो वोटर शिफ्ट हो गए होंगे या फिर जिनका निधन हो गया होगा, उन्हें हटाने की कार्रवाई होगी। यह काम 30 सितंबर तक होगा। इसके बाद बीएलओ पोलिंग सेंटर पर बैठकर भी आवेदन लेंगे।
1 लाख 40 हजार कार्ड फ्री में बदेलेंगे
बीएलओ ऐसे वोटरों से रंगीन फोटो भी लेंगे जिनके पास अभी ब्लैक एंड व्हाइट फोटो पहचान पत्र हैं या फिर वोटर लिस्ट में उनका कलर फोटो नहीं है। जिले में ऐसे वोटरों की संख्या 1 लाख 40 हजार है। इन्हें कलर वोटर कार्ड देने का काम फ्री होगा। इसके लिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी बीएल कांता राव ने आदेश जारी कर दिए हैं।
74 लाख वोटर्स के बनेंगे रंगीन आईडी कार्ड
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने बताया कि मतदाता सत्यापन एक सितंबर से 15 अक्टूबर के बीच किया जाएगा। कांताराव ने बताया कि प्रदेश में 74 लाख मतदाताओं के वोटर आईडी पर ब्लैक एंड व्हाइट फोटो हैं। इनके रंगीन फोटो प्राप्त कर नए परिचय पत्र बनाए जाएंगे। आयोग ऐसे मतदाताओं को निशुल्क परिचय पत्र बनाकर देगा। इसके लिए बूथ लेवल अधिकारी संबंधित मतदाता से निर्धारित फार्म भरवाकर रंगीन फोटो प्राप्त करेंगे।
नए परिचय पत्र प्लास्टिक के होंगे अन्य मतदाताओं को इसके लिए 25 रुपए शुल्क लगता है। मतदाता अपने पास पूर्व से उपलब्ध परिचय पत्र तब तक रखेगा जब तक उसे नया कार्ड उपलब्ध नहीं होता। ब्लैक एंड व्हाइट से रंगीन मतदाता कार्ड बनवाने के लिए बीएलओ या नजदीकी मतदान केंद्र पर संपर्क करना होगा। बीएलओ भी क्षेत्रों में संपर्क करेंगे। इसी के साथ आयोग मतदाताओं के मोबाइल नंबर का रिकार्ड भी रखेगा लेकिन इसे सार्वजनिक नहीं किया जाएगा। समय-समय पर मतदाताओं को इसके माध्यम से संदेश भेजे जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here