आर्ट आॅफ लिविंग एडवांस मेडिटेशन प्रोग्राम में जीवन के पांच स्तम्भों के माध्यम से सीखी सुन्दर जीवन जीने की कला

0
23

झाँसी। आर्ट आॅफ लिविंग झाँसी चैप्टर के तत्वावधान में आयोजित चार दिवसीय एडवांस मेडिटेशन प्रोग्राम के समापन अवसर पर जोनल टीचर कोआॅर्डिनेटर श्रीमती कचंन अहुजा ने बताया कि यह प्रोग्राम व्यक्ति विकास केन्द्र बैंगलोर से आए हुए अंतराष्ट्रीय प्रशिक्षक प्रदीप कुमार पाठक द्वारा कराया गया। उन्होंने बताया कि प्रोग्राम में सुन्दर जीवन जीने के पांच स्तम्भ साधना, सेवा, सत्संग, मुस्कान व मौन को अलग-अलग प्रक्रियाओं द्वारा अनुभव कराया गया। सभी अनुयायीओं ने ढाई दिन का मौन रखकर एक सुन्दर जीवन का आन्नद लिया। कोर्स के दौरान प्रधानमंत्री के स्वच्छता अभियान के अन्तर्गत 2 अक्टूबर को कोर्स की स्वच्छता टीम ने इलाहाबाद बैंक-ईलाइट रोड पर सफाई कर कचरे को कूड़ेदान में एकत्र करते हुए लोगों ने स्वच्छता का महत्व बताते हुए सभी से स्वच्छ वातावरण रखने की अपील की। अंत में मौन खुलने पर सभी ने पूरे विश्व में शांति हेतु प्रार्थना करने हुए आपस में भाईचारा बनाकर साथ चलने का संकल्प लिया।

इस दौरान प्रोग्राम में भाग ले रहे अनुयायीओं ने अपने अनुभवों को सभी के बीच साझा किया, जिसमें मेडिकल की छात्रा चंदना सहाय ने कहा कि मौन में जो आनंद है वह कहीं और नहीं है। वही मधुमिता घोष का कहना है कि वे यह कोर्स कर अपने आप को भाग्यशाली महसूस करतीं हैं वत्सला शर्मा ने कहा कि कोर्स के दौरान हमारे भीतर जो परिवर्तन हुआ कि जीवन में यदि कोई बात ज्ञान से न बने तो अपने पावर का इस्तेमाल करें यदि फिर भी सफलता न मिले तो सर्मपण जो हमें मुक्त कर देता है। श्री भास्कर ने कहा कि इस कोर्स को करने के बाद उन्हें ऐसा महसूस हो रहा है जैसे कि वे अपनी सभी परेशानियों से मुक्त हो गए हों। इसी प्रकार सभी ने अपने-अपने अनुभव एक दूसरे से साझा किए। इस अवसर पर अनुयायीआंे के अलावा शिक्षकगण, सत्येन्द्र झा, अशोक हिरवकर, रामकिशोर गुप्ता, प्रदीप कार्पे, राघव वर्मा, चन्द्रशेखर, गीतांजली, राजेश, त्रिलोक, वसुधा, जयकिशन व झाँसी एपेक्स के राजीव शर्मा, संजय त्रिपाठी ने सभी को बधाई देते हुए सुखद जीवन की कामना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here